अध्याय-9 (मैनुअल-8)
निर्णय लेने की प्रक्रिया

Chapter- 9 (Manual - 8)
Procedure followed in Decision Making Process

9.1 किसी भी विषय पर निर्णय लेने के लिये लोक प्राधिकरण में क्या प्रक्रिया अपनायी जाती है?

महाविद्यालय में विभिन्न विषयों पर पृथक-पृथक निर्णय लिया जाता है और निर्णय लेने की प्रक्रिया निर्धारित है ।

  1. अकादमिक मुद्दों पर निर्णय -

  2. उक्त सभी निर्णय अकादमिक प्रवृत्ति के हैं और निर्णय लेने का अधिकार म.प्र.शासन एवं बरकतउल्ला वि.वि.भोपाल को है ।

  3. परीक्षा संबंधी समस्त निर्णय: बरकतउल्ला विश्वविद्यालय भोपाल द्वारा लिए जाते है।

  4. प्रशासकीय निर्णय -

  5. अन्य प्रशासनिक निर्णय -

निम्नलिखित बिन्दुओं पर प्रक्रिया का उल्लेख करें -

  1. प्रवेश प्रक्रिया एवं प्रवेश पर निर्णय लेने के अधिकार

  2. प्रवेश प्रक्रिया निम्न चरणों में सम्पन्न होती हैं :

  3. छात्रसंघ चुनाव प्रक्रिया एवं निर्णय लेने के अधिकार -

  4. छात्रसंघ चुनाव विश्वविद्यालय द्वारा जारी किये गये अध्यादेश के आधार पर सम्पन्न होते हैं, इसके लिए प्राचार्य द्वारा मुख्य चुनाव अधिकारी नियुक्त किया जाता है । चुनाव संबन्धी समस्त निर्णय प्राचार्य, मुख्य चुनाव अधिकारी और चुनाव समिति द्वारा संयुक्त रूप से लिये जाते हैं । सभी निर्णय अध्यादेश की परिसीमा में लिये जाते हैं।

  5. परीक्षा संचालन प्रक्रिया निर्णय लेने के अधिकार -

  6. महाविद्यालय की सम्बद्धता बरकतउल्ला वि.वि.से है, अतः इस संबंध में समस्त निर्णय वि.वि.द्वारा लिए जाते है।

  7. वार्षिकोत्सव संचालन प्रक्रिया एवं निर्णय लेने के अधिकार -

  8. महाविद्यालय वार्षिकोत्सव छात्र परिषद परामर्शदाता द्वारा निर्धारित किया जाता है । सम्मिलित निधि समिति उपलब्ध बजट के आधार पर वार्षिकोत्सव से संबंधित निर्णय लेती है । इसमें शिक्षक और विद्यार्थी दोनों ही सदस्य के रूप में मनोनीत होते हैं ।

  9. शासन, यू.जी.सी, एवं अन्य स्त्रोंतों से प्राप्त अनुदान को व्यय करने की प्रक्रिया एवं निर्णय लेने के अधिकार।

  10. शासन द्वारा प्राप्त अनुदान का व्यय शासकीय नियमों के तहत और उन्हीं मदों में किया जाता है जिसके लिए प्राप्त हुआ है।

    विष्वविद्यालय अनुदान आयोग की विभिन्न योजनाओं के तहत महाविद्यालय द्वारा अपने आवेदन दिये जाते हैं और स्वीकृत होने पर स्वीकृति पत्र में दिये गये दिशा निर्देषों के अनुसार निर्धारित मद में व्यय किया जाता है । राशि व्यय करने के बाद इसका उपयोगिता प्रमाण पत्र विश्वविद्यालय अनुदान आयोग को भेजा जाता है ।

    शासी परिषद बजट को पारित करती है और पारित बजट पर मदवार व्यय करने के लिए प्राचार्य को समिति द्वारा अधिकृत किया जाता है । विशिष्ट मदों में शासी परिषद् के अध्यक्ष की सहमति ली जाती है ।

9.2 किसी विशेष विषय पर निर्णय लेने के लिये निर्धारित नियम एवं प्रक्रिया क्या हैं ? अथवा निर्णय लेने के लिये किस-किस स्तरों पर विचार किया जाता है?

विभिन्न वैधानिक समितियों के माध्यम से निर्णय लिये जाते हैं ।

9.3 लिये गये निर्णय को जनता तक पहंुचाने के लिये क्या व्यवस्था है?

9.4 विभिन्न स्तर पर किन अधिकारियों की संस्तुति निर्णय लेने के लिये प्राप्त की जाती है?

महाविद्यालय संचालन की किन-किन प्रक्रियाओं में उच्च स्तर के अधिकारियों की अनुमति अथवा अनुशंसा की आवश्यकता होती है -

क्र. विषय/प्रक्रिया जिनमें उच्च अधिकारियों की अनुमति की आवश्यकता होती है उच्च अधिकारी का पदनाम
1 प्राचार्य को प्रदत्त परिसीमा से अधिक के क्रय करने की अनुमति शासी परिषद
2 नये पाठ्यक्रम प्रारम्भ करने की अनुमति शासी परिषद/उच्च शिक्षा विभाग/कुलपति विश्वविद्यालय
3 राज्य से बाहर शैक्षणिक भ्रमण ले जाने की अनुमति । शासी परिषद
4 टीचर फैलोशिप पर की गई वैकल्पिक नियुक्ति की पुष्टि प्रमुख सचिव, उच्च शिक्षा

9.5 अंतिम निर्णय लेने के लिये प्राधिकारित अधिकारी।

प्रक्रियावार अंतिम निर्णय लेने के लिए अधिकारी का नाम दिया जाए।

सभी विषयों में अंतिम निर्णय लेने के लिए अध्यक्ष, शासी परिषद अधिकृत हैं ।

9.6 मुख्य विषय जिस पर लोक प्राधिकरण द्वारा निर्णय लिया जाता है उसका विवरण निम्न प्रारूप में अलग से प्रस्तुत करें।

क्र. विषय
(जिसके संबंध में निर्णय लिया जाना है।)
दिशा-निर्देश (यदि हो तो) निर्णय लेने की प्रक्रिया निर्णय लेने में शामिल अधिकारियों की सम्पर्क सूचना निर्णय के विरूद्ध कहाँ और कैसे अपील करें
1 प्रवेश संबंधी कार्य शासन / विश्वविद्यालय द्वारा जारी आदेश दिशा निर्देष में दिये गये आधार पर प्रवेश समिति गठित की जाती है। निर्णय के विरूद्ध प्राचार्य के पास अपील की जा सकती है
2 छात्रसंघ चुनाव संबंधी कार्य अध्यादेश-1, बरकतउल्ला विश्वविद्यालय प्राचार्या और मुख्य चुनाव अधिकारी और उनके दल द्वारा अध्यादेश की परिसीमा में निर्णय लिया जाता है मुख्य चुनाव अधिकारी और उसके दल की अधिसूचना प्राचार्य द्वारा जारी की जाती है । अपीलेट प्राधिकरण कमेटी तथा प्राचार्य के पास अपील की जा सकती है ।
3 विश्वविद्यालयीन परीक्षाएँ विश्वविद्यालय अध्यादेश-5 और 6 के तहत विश्वविद्यालय द्वारा निर्धारित निर्णय लेने की प्रक्रिया के तहत परीक्षा संचालन से जुड़े हुए शिक्षक

कुलसचिव/बरकतउल्ला
वि.वि.भोपाल.

4 वार्षिकोत्सव एवं युवा उत्सव शासन द्वारा निर्धारित नियमों के तहत प्राचार्य, और संबंधित अधिकारी प्राचार्य, और छात्र परिषद सलाहकार समिति प्राचार्य अथवा आयुक्त उच्च शिक्षा के पास
5 स्ववित्तीय आधार पर नए विषय/नए पाठ्यक्रम अध्ययन मण्डल द्वारा निर्धारित किये पाठ्यक्रम के आधार पर शासन की अनुमति और विश्वविद्यालय से सम्बद्धता प्राचार्य, और संबंधित विषय के प्राध्यापकों से प्राचार्य, संबंधित विश्वविद्यालय अथवा आयुक्त उच्च शिक्षा
6 विश्वविद्यालय अनुदान आयोग से प्राप्त राशि का व्यय विश्वविद्यालय अनुदान की मार्गदर्शिका के अनुसार महाविद्यालय के प्राचार्य एवं यू.जी.सी. प्रभारी प्राचार्य, एवं लेखापाल यू.जी.सी. मध्यक्षेत्रीय कार्यालय, भोपाल
7 शासन से प्राप्त राशि का व्यय शासन द्वारा निर्धारित मापदण्डों के आधार पर प्राचार्य प्राचार्य, एवं लेखापाल प्राचार्य हमीदिया महाविद्यालय तथा आयुक्त, उच्च शिक्षा